Human Resources

 
 
हमारी दृष्टि (विज़न)
जनसमूह के माध्यम से उत्कृष्टता का अनुगमन
हमारी मिशन
मूल्य आधारित संस्कृति के पालन को बढ़ावा देना
निरंतर शिक्षा एवं प्रतिस्पर्धा निर्माण के वातावरण को प्रोत्साहन देना/सृजन करना
संगठनात्मक लक्ष्यों को समर्थित करने के लिए मानव संसाधन प्रणालियों का विकास/उन्नयन करना
व्यावसायिक लक्ष्यों के साथ सामंजस्य में हितधारक मूल्य को अधिकतम करना
प्रतिभा एवं उत्साही रचनात्मकता को प्रोत्साहित करने वाले एक समर्थकारी कार्य वातावरण को बढ़ावा देना
सहयोग, सशक्तीकरण एवं पारदर्शी संचार प्रणाली के माध्यम से कर्मचारी प्रतिबद्धता का निर्माण करना
 
कर्मचारी विकास
कंपनी द्वारा कार्यपालकों, पर्यवेक्षकों तथा कामगारों के प्रशिक्षण को उच्च प्राथमिकता दी जाती है। कंपनी के कर्मचारियों को अध्‍ययन एवं विकास केंद्र में उपलब्ध प्रशिक्षण सुविधाओं का उपयोग करके प्रशिक्षण देने के अलावा भारत के अन्य प्रशिक्षण केंद्रों को भेजे जाते हैं। देश के अंदर / विदेश में उपस्कर विनिर्माताओं द्वारा दी जानेवाली प्रशिक्षण सुविधाओं का भी उपयोग किया जाता है।
 
गुणवत्ता सर्कल क्रियाकलाप अध्‍ययन एवं विकास केंद्र द्वारा समन्वयन किया जाता हैं जिससे संगठन को बहुत लाभ मिला है। नेयवेली के गुणवत्ता सर्कल के मामला अध्ययन प्रस्तुतिकरण, नेयवेली के बाहर कई सम्मेलनों में अपने योगदान को प्रदर्शित करके अच्छा नाम कमाया।
  • इस प्रतियोगी दुनिया में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए कौशल और प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए प्रशिक्षण प्रथाओं के लगातार सुधार।
  • मानव क्षमता के अंतर्निहित योग्यता को प्रभावी ढंग से उपयोग करना।
  • प्रभावी प्रशिक्षण प्रथाओं के माध्यम से मानव उत्कृष्टता प्राप्त करना।
  • आईएसओ 9001-2008 गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली मानक आवश्यकताओं को बनाए रखना, समीक्षा और अद्यतन करना।

     
    अध्ययन एवं विकास केंद्र में विभिन्न श्रेणियों के तहत प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। अंतर प्रशिक्षण कार्यक्रमों को प्रणाली के अनुसार बनाया जाता है। सभी प्रशिक्षण कार्यक्रमों की शुरुआत प्रार्थना से होगा और कार्य-जीवन में संतुलन कला के रूप में अधिकांश कार्यक्रमों को तनाव मुक्त योग/ध्यान से समाप्त किया जाएगा।

    निगमित सामाजिक दायित्व (सीएसआर) ग्रामीण जनता विशेष रूप से छात्रों और महिलाओं तक पहुँचने के उद्देश्य से ऊर्जा संरक्षण, घरेलू सुरक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता और साफ-सफाई, परीक्षा कौशल, सड़क सुरक्षा, कौशल विकास आदि विषयों को महत्व दिया जाएगा। स्वैच्छिक संगठन की सेवाओं को उपयोग करने के द्वारा परियोजना प्रभावित लोगों (पीएपी) गांवों से संबंधित छात्रों को विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

    साइट पर प्रशिक्षण जिसके माध्यम से कर्मचारियों को बेहतरीनढ़ंग से काम करने के लिए अधिक संख्या में कर्मचारियों को कार्यस्थल पर ही प्रेरित किया जा सकता है। टीम बिल्डिंग, प्रेरणा, 5 एस, क्यूसी अवधारणा, राजभाषा हिंदी, ऊर्जा संरक्षण आदि इस श्रेणी के तहत बनाए कार्यक्रमों में से कुछ कार्यक्रम हैं।

    ओ.बी.टी – आउट बाउंड प्रशिक्षण के अंतर्गत इस साल निम्नलिखित कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।
     
  • भविष्य के बारे में हमारी दृष्टि : सीमा के बाहर
  • बरसिंहसर परियोजना और एनटीपीएल, तूतीकोरिन में प्रबंधकीय प्रभावशीलता
  • नेतृत्व विकास कार्यक्रम
  •  

    प्रतिनियुक्ति प्रशिक्षण
    एनएलसी के कर्मचारियों को विभिन्न क्षेत्रों में अपने ज्ञान और कौशल को अद्यतन करके उसे एनएलसी पर लागू करने के लिए विभिन्न प्रतिष्ठित प्रशिक्षण संस्थानों को प्रतिनियुक्त कर रहे हैं। कर्मचारियों को विभिन्न राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे संस्थानों जैसे अन्ना प्रबंधन संस्थान, चेन्नई, प्रशासनिक प्रशिक्षण संस्थान, मैसूर, एपी के डॉ एमसीआर संस्थान, हैदराबाद, लोक उद्यम संस्थान हैदराबाद आदि में भारत सरकार के कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग द्वारा प्रायोजित कार्यक्रमों के लिए प्रतिनियुक्त कर रहे हैं।

     

    उद्योग - संस्था अंर्तप्रदेश
    उद्योग - संस्था अंर्तप्रदेश के क्रम में, डिप्लोमा/डिग्री के अभियांत्रिकी छात्रों को प्रत्‍येक वर्ष दिसंबर से जुलाई के बीच की अवधि में अपना अंतर्संयंत्र प्रशिक्षण (आईपीटी) तथा परियोजना कार्य (पीडब्ल्यू) करने की अनुमति दी जाती है। छात्र समुदाय को संयंत्रों में व्यावहारिक अनुप्रयोगों के साथ क्लास रूम में सीखा रहे सैद्धांतिक ज्ञान को जोडने के द्वारा लाभान्वित किया गया ताकि उनके रचनात्मक दिमाग को समृद्ध कर सकें।


     

    प्रशिक्षण माहौल
     
  • प्रभावी प्रशिक्षण हेतु माहौल निर्मित करते हुए अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ पूर्ण रूप से सुसज्जित वातानुकूलित एवं गैर-वातानुकूलित हॉल।
  • लघु बैठकें रखने के लिए 100 सीटों की क्षमता का लघु- प्रेक्षागृह। भोजन में अपनी पसंद के चुनाव तथा अपव्यय से बचने के लिए बुफे प्रणाली।
  • निगमित समारोहों की मेज़बानी करने हेतु 300 सीटों की क्षमता का प्रेक्षागृह।
  •  
    औद्योगिक संबंध
    एन.एल.सी इंडिया द्वारा सौहार्दपूर्ण औद्योगिक संबंध बनाए रखने के लिए सतत प्रयास किया जाता है। एन.एल.सी इंडिया में यूनियन के संयुक्त कौंसिल तथा इंजिनियर्स तथा अधिकारियों के संघ प्रभावी रूप से चालाये जा रहे हैं। प्रबंधन द्वारा सामान्य मामलों में विचार विमर्श करने की नियमित प्रणाली अपनायी गयी है जिससे अच्छे औद्योगिक संबंध बनाए रखने तथा कर्मचारियों के बीच पारस्परिक विश्वास सृजन करने तथा भरोसा पैदा करने में सहायता होगी।
     
    कल्याण
    कंपनी एक आदर्श नियोक्ता के रूप में अपने कर्मचारियों तथा परिधीय गाँवों के कल्याण में ज्यादा रुचि दिखाती है। कुछ मुख्य विशिष्टताएं निम्नप्रकार है:

    कर्मचारियों को कल्याण कार्य
    • 21000 घर सहित टाउनशिप
    • इमदादी परिवहन
    • परिधीय औषधालय के साथ 350 से अधिक बिस्तरवाला अस्पताल सहित मेडिकेर
    • औद्योगिक कैंटीन
    • परिवार कल्याण
    • छोटा परिवार अपनाने के लिए विशेष प्रोत्साहन योजनाएं
    • शिक्षा- नेयवेली कैंपस में स्कूल तथा एक कॉलेज
    • मनोरंजक सुविधाएं- क्लब, जिम
    • सभी आधारभूत सुविधाओं के साथ खेलकूद
    • सेवानिवृत्ति के बाद चिकित्सा सहायता
    • बच्चों के लिए क्रेश
    • स्कूल बच्चों के लिए हेल्त केर कार्यक्रम

     
    इमदादी परिवहन
    सामाजिक कल्याण – परिधीय विकास:
    • आसपास के ग्रामों को पेयजल
    • आसपास के ग्रामों के 20000 एकडों को सिंचाई जल
    • मानसिक रूप में दिव्यांग बच्चों तथा निराश्रित महिलाओं तथा बूढे लोगों को सुविधाएं - स्नेहा
    • दिव्यांग हेतु जयपूर टाइप कृत्रिम अंग बनाने के लिए एक केंद्र
    • आसपास के गाँवों के लिए मुफ्त चिकित्सा कैंप; बंध्याकरण
    • श्रवणदोष बच्चों के लिए स्कूल “श्रावणी”

    मेडिकल कैंप

     

     एनएलसी इंडिया लिमिटेड